#GST के तहत सरकार ने कारोबारियों को दी बड़ी सुविधा

0
13
#GST

#GST के तहत सरकार ने कारोबारियों को दी बड़ी सुविधा

AGENCY

गुड्स ऐंड सर्विसेज टैक्स #GST में शामिल हुए कारोबारी अगर अपना रजिस्ट्रेशन कैंसल करना चाहते हैं तो जीएसटीएन पर उन्हें अब यह सुविधा दी गई है।  जीएसटी नेटवर्क के सीईओ प्रकाश कुमार ने बताया कि यह सुविधा बुधवार को शुरू हो गई है।

प्रोफाइल सेक्शन में ‘आरईजी 29’ ऑप्शन

उन्होंने बताया कि सालाना 20 लाख रुपए तक टर्नओवर वाले कारोबारी ने अगर कोई टैक्स इनवॉयस जारी नहीं किया है तो वह पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन रद्द करा सकता है। इसके लिए प्रोफाइल सेक्शन में ‘आरईजी 29’ ऑप्शन पर जाना होगा।गौरतलब है कि जीएसटी पर अभी करीब एक करोड़ रजिस्टर्ड टैक्सपेयर हैं। इनमें से 72 लाख वे टैक्सपेयर हैं जो पहले ही एक्साइज, सर्विस टैक्स और वैट से माइग्रेट होकर जीएसटी में आए हैं। करीब 28 लाख टैक्सपेयर ऐसे हैं जिन्होंने हाल ही में जीएसटी में अपना नया रजिस्ट्रेशन करवाया है। कुमार ने बताया कि 20 लाख माइग्रेटेड कारोबारी ऐसे हैं जिन्होंने अपनी इनवॉइस अभी तक इशू नहीं की है ऐसे कारोबारी ,अगर चाहें तो अपना रजिस्ट्रेशन पोर्टल पर कैंसल कर सकते हैं।

कैसे कर सकते है कैंसिल

  •   अगर आप भी ऐसे ही कारोबारी हैं तो आपको जीएसटीएन पोर्टल पर अपने अकाउंट से लॉग-इन करना होगा। लॉग-इन करते ही आपको कैंसिलेशन ऑफ प्रोविजनल रजिस्ट्रेशन का ऑप्शन दिखाई देगा। यहां पर आपको अपने रजिस्ट्रेशन को कैंसिल करने का पर्याप्त कारण देना होगा। यानी यहां पर आप डिस्कन्टीन्यू ऑफ बिजनेस लिख सकते हैं। ऐसा करते ही आपका रजिस्ट्रेशन कैंसिल हो जाएगा। कैसिल करते ही आपको यह संदेश दिखेगा।
  • हालांकि यह सुविधा सिर्फ ऐसे पूर्व व्यापारियों के लिए है, जिन्होंने अपना कारोबार बंद कर दिया है या बंद करना चाहते हैं जिन्होंने बीते कई महीनों से कोई भी बिजनेस नहीं किया है विशेषकर जुलाई के आस पास।
  • अगर आपका जीएसटी नंबर कैंसिल हो गया है तो आपको रजिस्टर्ड ई-मेल या मोबाइल नंबर पर मैसेज भेजा जाएगा। वहीं अगर आपको किसी कारणवश मेल नहीं आया हो तो भी आपके पास इसे पता करने का एक रास्ता है।
  • आप पोर्टल पर जाकर अपनी आईडी पर लॉग इन करें। अगर आपका रजिस्ट्रेशन कैंसिल किया जा चुका है तो आप लॉग-इन ही नहीं कर पाएंगे।
  • लॉग-इन करते ही आपको संदेश दिखने लगेगा कि आपका रजिस्ट्रेशन कैंसिल किया जा चुका है।
SHARE

आरती पाण्डेय वेबसाइट की संपादक हैं। यह देश में चल रही राजनीतिक हलचलों पर निगाह रखती हैं। कई बडी और सनसनी खबरों को पहले बे्रक करने का श्रेय आरती पाण्डेय को जाता है। निष्पक्ष और तथ्यपरक रिपोर्टिंग इनकी खासियत है। साथ ही स्थानीय और देश की समस्याओं की ओर भी इनका फोकस रहता है।