#UP से बांग्लादेशी घुसपैठियों को निकालने का अभियान शुरू

0
8
Yogi-Adityanath

#UP से बांग्लादेशी घुसपैठियों को निकालने का अभियान शुरू

AGENCY

#UP में अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशियों को बाहर निकलाने का अभियान शुरू हो गया है. बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानून व्यवस्था को लेकर हुई उच्चस्तरीय बैठक में अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशियों की पहचान करके उन्हें बाहर निकालने का आदेश दिया है.

अवैध विदेशी नागरिकों के खिलाफ अभियान शुरू

  • दरअसल, जिलों के पुलिस अधिक्षकों (SP) ने राज्य में कानून व्यवस्था बिगाड़ने के लिए इन अवैध घुसपैठियों को भी जिम्मेदार ठहराया था, जिसके बाद योगी सरकार ने इनकी पहचान करके बाहर निकालने का आदेश दिया है.
  • मुख्यमंत्री योगी के साथ बैठक के बाद यूपी पुलिस ने अवैध विदेशी नागरिकों के खिलाफ अभियान शुरू कर दिया
  • एडीजी (कानून व्यवस्था) आनंद कुमार ने कहा कि अवैध रूप से रह रहे विदेशी नागरिकों को हटाने के लिए अभियान चलाया जाएगा.
  • इन बांग्लादेशी नागरिकों के खिलाफ अभियान चलाने के लिए रोडमैप तैयार किया जा रहा है.
  • उन्होंने कहा कि रोडमैप तैयार कर अवैध विदेशी नागरिकों को प्रदेश से बाहर किया जाएगा.
  • अवैध बांग्लादेशी नागरिकों के साथ सभी अवैध विदेशी नागरिको के दस्तावेजों की जांच होगी.
  • इससे पहले केंद्र सरकार अवैध घुसपैठियों को लेकर चिंता जाहिर कर चुकी है.
  • लोकसभा में गृह मंत्रालय ने लिखित जवाब में कहा था कि भारत में बांग्लादेशी नागरिकों की अवैध घुसपैठ चिंता का विषय है.
  • लोकसभा में किरण रिजिजू ने कहा कि चूंकि अवैध अप्रवासी चोरी-चोरी बिना वैध यात्रा दस्तावेजों के भारत प्रवेश करते हैं.
  • इसलिए अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशियों की संख्या के बारे में कोई सटीक जानकारी नहीं है.

 15 हजार से अधिक अवैध बांग्लादेशी घुसपैठिए गिरफ्तार

गृह मंत्रालय ने लिखित जवाब में कहा कि उपलब्ध सूचना के अनुसार विगत तीन वर्षों और चालू वित्त वर्ष के दौरान 15 हजार से अधिक अवैध बांग्लादेशी घुसपैठिए गिरफ्तार किए गए.

SHARE

आरती पाण्डेय वेबसाइट की संपादक हैं। यह देश में चल रही राजनीतिक हलचलों पर निगाह रखती हैं। कई बडी और सनसनी खबरों को पहले बे्रक करने का श्रेय आरती पाण्डेय को जाता है। निष्पक्ष और तथ्यपरक रिपोर्टिंग इनकी खासियत है। साथ ही स्थानीय और देश की समस्याओं की ओर भी इनका फोकस रहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here